Sunday, April 14, 2024
featuredदुनिया

6 पुलिसवालों को मारने वाले लश्‍कर कमांडर के जनाजे में हिस्‍सा लेने को सैकड़ों लोग पहुंच रहे घर

SI News Today

भारतीय सेना के साथ मुठभेड़ में मारे गए लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर बशीर लश्करी के जनाजे में हिस्सा लेने के लिए दक्षिणी कश्मीर के सैकड़ों लोग उसके गांव पहुंच रहे हैं। जैसे ही लश्करी की मौत की खबर अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम तथा शोपियां जिले में फैली, अपने-अपने साधनों से लोगों का कोकरनाग इलाके के सोपशाली गांव में पहुंचना शुरू हो गया, जहां से मारा गया आतंकवादी ताल्लुक रखता है।

अधिकारियों ने हालांकि अभी तक मारे गए दोनों आतंकवादियों बशीर लश्करी तथा उसके सहयोगी आजाद मलिक के शवों को अंत्येष्टि के लिए उनके परिजनों को नहीं सौंपा है।

माना जा रहा है कि शोक जताने वाले लोगों तथा सुरक्षाबलों के बीच किसी तरह का टकराव रोकने के लिए शवों को शनिवार की देर शाम उनके परिजनों को सौंपा जाएगा। लश्कर के आतंकवादियों के मारे जाने के बाद बारामूला तथा बनिहाल के बीच रेल सेवा निलंबित कर दी गई है।

जब सुरक्षाबलों तथा आतंकवादियों के बीच अनंतनाग जिले के दियालगाम इलाके के ब्रेंथी बाटापोड़ा गांव में सुबह में मुठभेड़ चल रही थी, तब अनंतनाग के जिलाधिकारी ने जिले के सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने का आदेश जारी किया।

राज्य के पुलिस महानिदेशक एस.पी.वैद्य ने कहा कि बशीर लश्कर पिछले माह अच्छाबल इलाके में एसएचओ फिरोज डार सहित छह पुलिसकर्मियों की हत्या में शामिल था। लश्करी पर 10 लाख रुपये का इनाम था।

मुठभेड़ के दौरान दोनों ओर से गोलीबारी में दो नागरिकों की भी मौत हो गई, जिनकी पहचान अधेड़ आयु की महिला ताहिरा तथा 22 वर्षीय युवक शादाब अहमद के रूप में हुई है। अलगाववादी नेताओं ने दो आतंकवादियों तथा दो नागरिकों के मारे जाने के विरोध में रविवार को घाटी में बंद का आह्वान किया।

SI News Today

Leave a Reply