Friday, February 23, 2024
featuredदेशहेल्थ टिप्स

मोदी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत का शुभारंभ

SI News Today

Modi inaugurated the biggest health plan of the world, Ayushmann Bharat.

    

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  आज करेंगे केंद्र सरकार के आयुष्मान भारत बीमा योजना का शुभारंभ आयुष्मान भारत योजना से करीब 50 करोड़ भारतीय इससे लाभान्वित होंगे। पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से आयुष्मान भारत योजना के लॉन्चिंग की धोषणा की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को झारखंड से केंद्र के महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन का शुभारंभ करेंगे। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत सरकार का देश के 10 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को पांच लाख रुपए प्रति परिवार स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा मुहैया कराने का लक्ष्य है। सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के मुताबिक, ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ गरीब परिवारों को इससे लाभ होगा। लगभग 50 करोड़ लोग इस योजना के दायरे में आएंगे।

बता दे कि इसके लिए नेशनल हेल्थ एजेंसी ने नेशनल हेल्थ इंसोरेंस के अंतर्गत आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना की वेबसाइट और हेल्पलाइन को लांच कर दिया है। अब ऐसे में पता चल सकता है कि आप आयुष्मान योजना के लाभार्थी है या नहीं। यह आप इस एनएचए द्वारा शुरू की वेबसाइट पर देख सकते है। साथ ही इससे संबंधित सहायता के लिए हेल्पलाइन पर भी बात कर सकते है। साथ ही अस्पतालों में आयुष्मान मित्र से भी मदद ले सकते है।

वहीं आयुष्मान भारत-नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन मिशन को लागू करने वाली नेशनल हेल्थ एजेंसी ने एक वेबसाइट व हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया है। जिसके जरिए यह पता किया जा सकता है कि लाभार्थियों की आखिरी सूची में किसी व्यक्ति के नाम है या नहीं। दरअसल इसमें  कोई  भी व्यक्ति आयुष्मान भारत की वेबसाइट mera.pmjay.gov.in पर अपना नाम चेक कर सकता है और इतना ही नही हेल्पलाइन नंबर 14555 पर कॉल भी कर सकता है। फिलहाल इसके लिए लाभार्थी को अपना मोबाइल नंबर दर्ज कराना होगा।  जिस पर ओटीपी के माध्सयम से सत्यापन होगा और उसके बाद बिना किसी दस्तावेज के केवाईसी की ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

इसकी देश के कर्इ राज्यों व जिलों में पॉयलट प्रोजेक्ट की शुरुआत हो चुकी है। ऐसे में लाभार्थियों की सहायता करने के लिए आयुष्मान मित्र भी तैनात कर दए गए है।ये अयुष्मान मित्र आयुष्मान स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की सहायता करेंगे। वह लाभार्थी व अस्पताल के बीच समन्वय स्थापित करेंगे।

जहां एक ओर आयुष्मान भारत योजना का लाभ देश भर में दस करोड़ परिवारों के लोगों को मिलेगा। वहीं दूसरी ओर इस योजना के लाभार्थी देश भर में सरकारी या प्राइवेट अस्पतालों में कैशलेस इलाज करा सकेंगे। इतना ही नहीं सभी राज्यों के सरकारी अस्पतालों को इस स्कीम में सम्मिलित भी माना जाएगा। साथ ही प्राइवेट और र्इएसआर्इ अस्पताल में भी शामिल रहेंगे। यहां मरीज को भर्ती कराने से लेकर उनका इंश्योरेंस कंपनी से भुगतान कराने का सारा काम आयुष्मान मित्र संभालेंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को प्रतिवर्ष इलाज के लिए 5 लाख रुपये तक का बीमा कवर मिलेगा। देश में 1.5 लाख गांव में हेल्थ और वेलनेस सेंटर खुलेंगे। यहां सिर्फ बीमारी का इलाज ही नही होगा बल्कि यहां पर हेल्थ चेकअप की सुविधा भी मिलेगी। आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रत्येक परिवार को प्रतिवर्ष इलाज के लिए 5 लाख रुपए तक का बीमा कवर मिलेगा। इस योजना से देश के 10 करोड़ परिवारों और 50 करोड़ लोगों को फायदा होने की संभावना है। यह योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और सीनियर सिटीजन इंश्योरेंस स्कीम का स्थान लेगी। बीमा कवर के लिए उम्र की भी बाध्यता नहीं रहेगी। इसमें पहले से मौजूद बीमारियां भी कवर होंगी। ये स्कीम कैशलेस होगी और इसमे परिवार के सदस्यों और उम्र का बंधन नहीं होगा। योजना में रजिस्टर्ड किसी भी प्राइवेट या सरकारी अस्पताल में इलाज हो सकेगा।

बता दे कि पिछले 10 साल में मेडिकल का खर्च 300 फीसद बढ़ गया है। देश में मेडिकल का 80 फीसदी खर्च लोग अपनी जेब से उठाते हैं। इस खर्च का बोझ आम आदमी पर न पड़े इसलिए मोदी सरकार ने आयुष्मान भारत योजना बनाई है।

SI News Today

Leave a Reply