Could create table version :No database selected मऊ खाद्यान्न घोटाला (भाग-2) - SI News Today
ताज़ा खबर:-

मऊ खाद्यान्न घोटाला (भाग-2)

मऊ खाद्यान्न घोटाला (भाग-2)

मऊ खाद्यान्न घोटाला (भाग-2)

Soft food scandal (Part-2)

           

मऊ जिले में जिलापूर्ति कार्यालय में तैनात पूर्ति निरीक्षक हर्षिता राय एवँ लिपिक धीरज कुमार अग्रवाल तथा जिलापूर्ति अधिकारी के अंतर्गत काम करने वाले प्राइवेट कर्मचारी एवं चपरासी नारायण यादव के द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार को, अंततः भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने संज्ञान में लेते हुए इस मामले में मऊ जिलाधिकारी को निर्देशित किया है, कि वह जल्द से जल्द भ्रष्ट कर्मियों पर कार्यवाही कर उनको तत्काल जिले से हटाएं।

आपको बता दें कि मऊ जिले में बीते कई वर्षों से जिलापूर्ति कार्यालय में पूर्ति निरीक्षक हर्षिता राय एवँ लिपिक धीरज कुमार अग्रवाल तथा जिलापूर्ति अधिकारी के अंतर्गत काम करने वाले प्राइवेट कर्मचारी एवं चपरासी नारायण यादव द्वारा बहुत बड़े स्तर पर भ्रष्टचार का नंगा नाच हो रहा है। जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश शासन, राज्यमंत्री खाद्य एवं रसद अतुल गर्ग उत्तर प्रदेश सरकार,उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व मऊ जनपद के प्रभारी मंत्री नंद गोपाल नंदी तथा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय, प्रमुख सचिव,खाद्य तथा रसद विभाग, उ०प्र०शासन एवं आयुक्त, खाद्य तथा रसद विभाग, उ०प्र० जवाहर भवन, लखनऊ से की गई है। लेकिन अब तक इस मामले पर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही सामने नही आई है।

मऊ खाद्यान्न घोटाले में S.I. न्यूज़ टुडे  द्वारा भी कई प्रकार के सबूत प्रकाश में लाये गए हैं। लेकिन अपने को साफ छवि का बता कर अपनी पीठ थप-थपाने वाली भाजपा सरकार भी इस मामले पर बिल्कुल खामोश दिख रही है। इस मामले पर भाजपा के मंत्रियों की चुप्पी और अधिकारियों के मन मे कार्यवाही का कोई भय ना होना ये दर्शाता है कि हमाम में सभी नंगे हैं। हमारे सूत्रों द्वारा हमे यह बताया गया है कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने इस मामले पर गंभीरता से विचार करते हुए कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

अब देखना यह कि एक ही शिकायत के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और विभाग और जिला संबंधित प्रभारी मंत्री तक को शिकायतपत्र और सबूत देने के बावजूद भी इस मामले पर इतनी हीलाहवाली आखिर क्यों। आने वाले 2019 लोकसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने तैयारियां शुरू कर दी हैं, लेकिन प्रश्न यह है कि खुद को भ्रष्टाचार से मुक्त बता कर ढिंढोरा पीटने वाली यह सरकार अब अनाज चोर अधिकारियों पर इतनी मेहरबान क्यों??

@Pushpen40953031

Related Post- मऊ खाद्यान्न घोटाला  मऊ जिले में खाद्यान्न घोटाले की आशंका

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: